SBI car loan: एसबीआई से लीजिए कार लोन , पात्रता , दस्तावेज, जानिए पूरी जानकारी - loan Solo Real

SBI car loan: एसबीआई से लीजिए कार लोन , पात्रता , दस्तावेज, जानिए पूरी जानकारी

SBI car loan: एसबीआई से कार लोन लेना बहुत ही आकर्षक हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि SBI अन्य बैंकों की तुलना में कम दर पर उधार देता है। सामान्य तौर पर, कार ऋण या ऑटो ऋण के लिए ब्याज दरें 8 से 15 प्रतिशत तक हो सकती हैं। एसबीआई कार ऋण पर न्यूनतम वार्षिक ब्याज दर 7.0 प्रतिशत है। हालांकि, आवेदक की प्रोफाइल के आधार पर ब्याज दर ऊपर या नीचे जा सकती है।

एसबीआई कार लोन के लिए कई कार लोन योजनाएं उपलब्ध हैं। जिससे कर्ज लेने वाले के लिए अपने हिसाब से लोन का फैसला करना आसान हो जाता है।

SBI car loan 2022

SBI car loan के कितने प्रकार होते ?

Stat bank of India  विभिन्न कार loan योजनाओं के तहत ऋण प्रदान करता है। आवेदक अपनी पसंद की किसी भी कार लोन योजना के लिए आवेदन कर सकता है। हालांकि, सभी कार ऋण योजनाओं के लिए ऋण उद्देश्य, पात्रता मानदंड, ऋण राशि और पुनर्भुगतान अवधि भिन्न हो सकती है। तदनुसार, एसबीआई कार ऋण योजनाएं निम्नलिखित प्रकार की हैं-

Sbi car loan लेने की eligibility क्या होती है ?

आवेदक की age 21 से 67 साल के बीच होनी चाहिए।

आवेदक वेतनभोगी, स्व-नियोजित, पेंशनभोगी या नियमित आय अर्जित करने वाला होना चाहिए।

कृषि से संबंधित आवेदक को कृषि भूमि का स्वामी होना चाहिए या भूमि के सभी मालिक ऋण में सह-आवेदक होने चाहिए।

SBI car loan भुगतान करने का समय क्या है ?

वेतन की तार

अल्पावधि ऋण के लिए ब्याज दर कम दर पर तय होती है जबकि लंबी अवधि के ऋण अपेक्षाकृत उच्च ब्याज दर पर उपलब्ध होते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि लॉन्ग टर्म लोन में बैंक के लिए रिस्क लंबा रहता है। और अल्पकालिक ऋणों में जोखिम कम होता है। इसलिए, कार ऋण की चुकौती अवधि कार ऋण पर ब्याज दर को प्रभावित करती है।

SBI car loan लेने वाले क्या इफेक्ट करते है ? 

भारतीय स्टेट बैंक अपने ग्राहकों को उच्च मूल्य के कार ऋण प्रदान करता है। ब्याज दर 7.15% से 12.35% के बीच है। उसी समय, कार ऋण की ब्याज दरें कई कारकों से प्रभावित हो सकती हैं। इसे ध्यान में रखते हुए आप कम ब्याज दर पर लोन प्राप्त कर सकते हैं।

आय से ऋण अनुपात

चाहे वह कार ऋण हो या कोई अन्य ऋण, सभी प्रकार के ऋणों पर ब्याज दरें आवेदक की आय और देयता के आधार पर भिन्न हो सकती हैं। यदि देनदार की आय से ऋण अनुपात अच्छा है तो ब्याज दर कम दर पर निर्धारित की जाती है। यदि आय और दायित्व का अनुपात सही नहीं है, तो ब्याज दर अधिक निर्धारित की जाती है।

सिबिल स्कोर

एक अच्छा सिबिल स्कोर अच्छे वित्तीय व्यवहार को दर्शाता है जबकि एक खराब सिबिल स्कोर खराब वित्तीय व्यवहार को दर्शाता है। इसलिए कम ब्याज दर पर लोन पाने के लिए एक अच्छा सिबिल स्कोर होना जरूरी है। CIBIL स्कोर तब बेहतर होता है जब उधारकर्ता ऋण को ठीक से चुकाता है, जबकि खराब क्रेडिट पुनर्भुगतान प्रदर्शन खराब CIBIL स्कोर का कारण होता है। कम ब्याज़ वाला कार लोन पाने के लिए, व्यक्ति को एक अच्छा सिबिल स्कोर बनाए रखना चाहिए

Leave a Comment